Wednesday, July 10, 2024

चरित्रहीन महिलाओं में होती है कुछ ख़ास निशानियां, ऐसे करें पहचान | चरित्रहीन ओरत की पहचान कैसे करें


चाणक्य नीति अगर कोई महिलाएं ऐसी हरकत कर रही है तो समझ जाओ। वह महिला कहीं और ही जा रही है। कई बार लोग अपने अनजाने में किसी चरित्रवान महिला को चरित्रहीन और चरित्रहीन महिला को चरित्रवान समझ लेते हैं। समझ में भी ऐसी गलती के कारण कई बार लोगों को लेने के देने पड़ जाते हैं। 

चरित्रहीन महिलाओं में होती है कुछ ख़ास निशानियां, ऐसे करें पहचान | चरित्रहीन ओरत की पहचान कैसे करें

वैसे सिर्फ चेहरे और कुछ अंदाज को देखकर तय कर पाना मुश्किल होता है कि कौन सी महिला चरित्रहीन है और कौन सी महिला चरित्रवान मगर चाणक्य के पास महिलाओं के चरित्र को समझने की नीति थी । तो चलिये आज के इस पोस्त में हम आपको चाणक्य नीति के अनुसार बताते हैं कि आप कैसे समझ सकते हैं कि कोई महिला चरित्रहीन है या चरित्रवान  इस पोस्ट को पूरा पढ़ना है ।  


Read more :- धोखेबाज पति पत्नी को समझे ?


चरित्रहीन महिलाओं में होती है कुछ ख़ास निशानियां, ऐसे करें पहचान | चरित्रहीन ओरत की पहचान कैसे करें 

दोस्तों चाणक्य नीति के अनुसार वह महिलाएं चरित्रहीन हो सकती हैं जो दिल और जुबान का तालमेल ठीक तरह से नहीं बनाता भी ऐसी महिलाएं दिल में कुछ और रख ति है । और जुबान से कुछ और बोलती है। अगर आपको किसी ऐसी लड़की से आपका पाला पड़ रहा है तो चाणक्य नीति के अनुसार उस महिला से बचके रहिएगा। 


No.2 उस महिला का चरित्र भी हो सकता है। चाणक्य नीति के अनुसार वह महिलाएं अच्छे चरित्र वाली नहीं होती जो प्यार किसी और व्यक्ति से करती है और संबंध किसी और व्यक्ति से बनाती है। सर शब्दों में कहा जाए तो इन महिलाओं के दिल में कोई और होता है लेकिन यह संबंध किसी और पुरूष के साथ बनाती हैं ।


No.3 जो महिलाएं चरित्र मान नहीं होती। वह अक्सर लोगों को लुभाने की कोशिश करती रहती है। और यह प्रयास करती रहती है कि कोई उनके प्यार में पड़ जाए ओर जबकि उनके प्यार में पड़ जाता है तो उसे मना कर देती है। 


No.4 चाणक्य नीति में ये कहा गया है कि कुछ महिलाएं ऐसी होती है जो हमेशा कोशिश करते हैं कि लोग उन्हें देखते रहे इसके लिए वह किसी भी हद तक जा सकती है। अंग्रेजी भाषा में से टेंशन पा ना भी कहते हैं। ऐसी महिलाएं किसी 1 पुरूष की नहीं होती। उनका प्रेमी उनकी जिंदगी की जरूरतों के हिसाब से बदलता रहता है। ये कभी भी किसी के साथ जिंदगी भर नहीं रह पाती। 


No.5 चाणक्य नीति में यह भी कहा गया है कि जिस महिला के पैर का पिछला भाग बहुत ज्यादा मोटा होता है । ऐसी महिलाएं घर के लिए शुभ मानी जाती। उसी तरह से अगर किसी महिला के पैर के पीछे वाला भाग बहुत ज्यादा पतला होता है तो वह अपने जीवन में अलग-अलग प्रकार की पीड़ा का सामना करने की हिम्मत रखते हैं। 


No.6 चाणक्य नीति के अनुसार जिन महिलाओं के मोटे लंबे चौड़े दांत होते हैं । ऐसे स्त्री के जीवन में हमेशा दुख के बादल बने रहते हैं और यह जिस पुरुष से प्यार करती हैं । उसके जीवन में भी मुसीबतें आनी शुरू हो जाती है। 


No.7 चाणक्य नीति में कहा गया है कि जो महिलाएं एक से ज्यादा पुरुष के साथ संबंध बनाती हैं । उन्हें इस बात की शर्म भी नहीं होती कि वह महिला पूरी तरह से चरित्रहीन है या नहीं। ऐसी महिलाओं से आपको दूर रहना चाहिए। 


ऐसी महिलाओं के बहुत सारे पुरुष मित्र होते हैं और यह बहुत चालाकी से सभी को अपने-अपने प्रेम जाल में फंसा रखती है। और जरूरतों के हिसाब से उन सभी का इस्तेमाल करते हैं। अगर आपका भी पाला अगर ऐसे लड़की से पड़ा है। जिसके बहुत सारे दोस्त है। तो आप सावधान रहने की जरूरत है। क्योकि वह लड़की चरित्रहीन हो सकती है । 


No.8 चाणक्य नीति में यह भी कहा गया है कि अगर आप किसी मूर्ख बालक को पढ़ा रहे हैं या फिर उसे कुछ ज्ञान देने का प्रयास कर रहे हैं तो उसके साथ-साथ आप भी मूर्ख है। उसी प्रकार अगर आप किसी स्त्री के साथ जीवन बिताने का सोच रहे हैं । जिसका चरित्र ठीक नहीं है और उसके जीवन में बहुत ज्यादा दुख है। तो इससे आपके  जीवन में भी दुख जरूर आएंगे और आप कभी खुश नहीं रह पाएंगे। 


No.9 चाणक्य ये भी मानते थे। जिस ओरत की नजरें नीचे की तरफ रहती हैं और वह ज्यादा समय तक नीचे ही रखती है। उन नजरों को उसका मतलब यह है कि वह बहुत ज्यादा कु कर्म करने वाली हो सकती है। उसके अपने जीवन में कुछ ऐसे काम हो सकते हैं जिसकी वजह से उसकी आंखें हमेशा नीचे रहते हैं। 


No.10 ऐसी स्त्रियों से आपको बचना चाहिए। वहीं अगर किसी स्त्री की नजर हमेशा ऊपर की तरफ रहती है। इसका मतलब है कि वह बहुत ज्यादा अच्छे दिल की है। और पुण्य कर्म करने वाली स्त्री है। 


No.11 चाणक नीति में यह कहा गया है कि वह महिलाएं अच्छे चरित्र की नहीं होती जो अपने पति का सम्मान नहीं करते और अपने पति के अलावा किसी दूसरे पुरुष के बारे में हमेशा सोचती रहती है। उसके साथ संबंध बनाते है। ऐसी स्त्रियों से बच कर रहना चाहिए । 


क्योंकि ऐसी स्त्री अगर किसी के जीवन में आ जाती है। तो उसके जीवन का सुख खत्म हो जाता ओर वो हमेशा परेशान रहता है। बस दोस्तों हमेशा इन चाणक्य नीतियों के इस आने से किसी स्त्री के चरित्र का आकलन करना। अब कम से कम चालाकियां समझदारी वाली बात नहीं है। 


अच्छी स्त्री की क्या पहचान है? | स्त्री के चरित्र को कैसे जाने?

इसलिए किसी भी महिला को चरित्रवान या चरित्रहीन घोषित करने से पहले उन्हें समझें और अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए ही फैसला ले। वर्तमान समय में किसी भी महिला को चरित्र प्रमाण पत्र देने का अधिकार समाज के आम लोगों को नहीं होना चाहिए। 


चरित्रहीन लड़की की पहचान क्या होती है? 

स्त्री को हमारे समाज में लक्ष्मी कहा गया है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रंथों में भी स्त्रियों के स्वभाव और उनके भविष्य से जुड़ी बातों के बारे में रोचक वर्णन मिलता है। हिंदू धर्म में महिलाओं को देवी का दर्जा दिया जाता है। ईश्वर ने महिलाओं की रचना बहुत ही खूबसूरत बनाई है। 


प्रसिद्ध ग्रंथ बृहद संहिता में स्त्रियों के दो प्रकार बताए गए हैं। शुभ लक्षणों और अशुभ लक्षण शुभ लक्षणों के आधार पर स्त्री को साक्षात लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है, जबकि असुभ लक्षण को अलक्ष्मी कहा जा सकता है। एक मान्यता के अनुसार कहा जाता है कि महिला के दांतों की बनावट आंख, नाक कान पेट व शरीर के अन्य हिस्सों को देख कर बताया जा सकता है कि वह अपने पति अपने ससुराल वालों के लिए कैसी होगी। 


समुद्र शास्त्र के अनुसार स्त्रियों की पहचान

अगर किसी महिला के पैर की कनिष्ठा उंगली जमीन को ना चुवे तो ऐसी स्त्री वक्त के साथ अपना चरित्र भी बदल लेती है। 


अगर महिला लंबी है और उसके होठों के ऊपरी हिस्से पर अधिक बाल हैं तो वह पति के लिए अशुभ मानी जाती है। 


ऐसा भी माना जाता है कि जो महिला बहुत अधिक गुस्सा और लड़ाई झगड़ा करती है, ऐसी स्त्री के चरित्र पर विश्वास करना बहुत मुश्किल होता है। 


ऐसी स्त्रियां जिनके कानों में बहुत बाल होते हैं। वे घर में कलेश की वजह बनती है।


यदि महिला के दांत मोटे और चौड़े हैं तथा वह मुंह से बाहर निकलते हुए दिखते हैं तो उस महिला का जीवन हमेशा दुख से भरा रहेगा। 


यही नहीं मसूड़ों का काला होना भी स्त्री के दुर्भाग्य की निशानी होती है। अगर महिला के हाथों में नसों में उभार और हथेली चपटी हो तो वे हमेशा सुख और धन से वंचित रहते है । 


लेकिन जिस तरह हाथ की पांचों उंगलियां बराबर नहीं होती। ठीक उसी प्रकार सभी स्त्रियों का बात व्यवहार तथा आचरण या आदत एक जैसा भी नहीं हो सकता है। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिससे आप औरतों के चरित्र को अच्छी तरह से पहचान सकते हैं। 


स्त्री के चरित्र की पहचान कैसे करें ? 

अगर किसी स्त्री को बात बात पर गुस्सा आता है। और गुस्सा कंट्रोल नहीं कर पाती है। उसका स्वभाव ही गुस्से वाला है तो ऐसी औरतों के चरित्र के ऊपर विश्वास नहीं किया जा सकता। वो पुरुषो को कभी भी धोखा दे सकती हैं। 


अगर किसी स्त्री के पैर का पिछला हिस्सा बहुत बड़ा है और बाहर निकला हुआ है और नशे काफी बाहर है। ऐसी औरतें भी अशुभ मानी जाती हैं। इन से दूरी बना कर रखना चाहिए, वरना आपका जीवन बर्बाद हो सकता है। 


अगर किसी स्त्री का पेट घड़े के आकार का है तो ऐसी औरते उम्र भर गरीबी तथा दरिद्रता में जीवन यापन करती हैं और जिस महिला का पेट गद्देदार और लंबा होता है तो इस तरह की औरतें भी अशुभ मानी जाती है  हालाकि दर्शकों हम आपको यह भी कहना चाहते हैं कि सिर्फ इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए किसी भी स्त्री के बारे में अपनी धारणा बनाना। वह भी गलत बात है क्योंकि बाहरी बनावट के अलावा भी बहुत सारी चीजें ध्यान रखने वाली होती है जो किसी स्त्री को अच्छा या बुरा बना बनाती है । 


इस दौड़ में महिलाओं को लोग जल्दी ज़्ज़ करने लगते हैं। मगर ये सही नहीं है। दोस्तो आप हमारे इस बात से सहमत हैं। या नही नीचे comment box में जरूर बताये । ओर ऐसे ही जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग को subscribe जरूर करे । 


तो आज के लिए इतना कल फिर मिलेंगे नई जानकारी के साथ तब तक हमारे ब्लॉग के अंत तक बने रहने के लिए आप सभी लोगो को दिल से धन्यवाद ,,,,,,,


अच्छी स्त्री की क्या पहचान है? । स्त्री के चरित्र को कैसे जाने? । पत्नी चरित्रहीन हो जाए तो क्या करें? । अच्छी स्त्री की क्या पहचान है?  । स्त्री के मन को कैसे जाने । अच्छी स्त्री की पहचान । चरित्रहीन महिलाओं में होती है कुछ ख़ास निशानियां, ऐसे करें पहचान । चाणक्य नीति चरित्रहीन स्त्री । पत्नी का चरित्र कैसे जाने । स्त्री चरित्र इन हिंदी । बेवफा स्त्री की पहचान । शरीफ औरतों की पहचान । स्त्री चरित्र श्लोक।  चरित्रहीन स्त्री की कहानी।  विधवा होने के लक्षण।  चरित्रहीन महिला को कैसे पकड़े।  चरित्रहीन स्त्री पर शायरी।  स्त्री का स्वभाव कैसा होना चाहिए

No comments:
Write comment